पाली का इतिहास | History of Pali Rajasthan

पाली राजस्थान का एक जिला है जो जालौर और नागौर के पास स्थित है। इस जिले में कुल 9 तहसील है (मारवाड़ , बाली , पाली, सोजत , रायपुर , सुमेरपुर , देसूरी , रोहत और जैतारण) । पाली शहर का नाम यह इसलिए रखा गया क्योंकि यह पालीवालो का निवास स्थान हुआ करता था। … Read more

रणकपुर जैन मंदिर : एक अध्भुत मंदिर

रणकपुर जैन मंदिर तीर्थंकर आदिनाथ के लिए बनाया गया एक मंदिर हैं । इसके निर्माण कि शुरुआत 1446 में हुई थी। यह काम 50 वर्ष से भी ज्यादा समय तक चला था जिसमें 99 लाख से भी अधिक कि धन राशि खर्च हो गई । यह पाली जिले के सादड़ी गाँव में मघाई नदी के … Read more

खाटू श्याम का इतिहास, कथा : कलयुग के देव : सम्पूर्ण जानकारी

खाटू श्याम मंदिर (Khatu Shyam Mandir) राजस्थान के सीकर जिले में स्थित है। खाटू श्याम बाबा को कलयुग का देवता, हरे का सहारा एवं लखदातार इत्यादि नामो से जाना जाता है।कलयुग में बाबा श्याम श्री कृष्ण के (आशीर्वाद और उनके दिए गए वरदान के कारण उनके) नाम से श्याम से जाने जाते है। क्योकि कलयुग … Read more

Jawai Bandh | जवाई बांध : संपूर्ण जानकारी

जवाई बांध (Jawai Bandh) का नाम किसने नहीं सुन रखा । राजस्थान के पाली जिले के सुमेरपुर गांव में स्थित इस बांध का निर्माण जोधपुर के राजा उम्मेद सिंह ने करवाया था। इसका निर्माण 1957 में सम्पूर्ण हो गया था। इस कार्य में लगभग 11 साल का समय लग गया। बांध के निर्माण कि शुरुवात … Read more

Salasar balaji (सालासर बालाजी), Churu Rajasthan: Bearded Hanuman Temple

Salasar Balaji मंदिर राजस्थान के  चूरू जिले के सालासर कस्बे में सीकर से करीब 50 किमी दूरी पर स्थित है। सालासर बालाजी मंदिर की प्रमुख विशेषता यह है कि यह पूरे विश्व में एकमात्र दाढ़ी मूछों वाले हनुमान जी की प्रतिमा स्थापित है। जो इस मंदिर को पूरे दुनियाभर में अनोखा बनाती है। इस मंदिर … Read more