Mohanpura Dam (मोहनपुरा डैम) Rajgarh- A Irrigation Project of MP

Mohanpura Dam मध्यप्रदेश के राजगढ़ जिले में स्थित है। मोहनपुरा डैम सिंचाई परियोजना भारत देश की ऐसी पहली परियोजना है जिसमे सबसे लंबी प्रेशरयुक्त पाइप लाइन की अंडर ग्राउंड नहर से 1 लाख 35 हजार हेक्टेयर जमीन में सिंचाई की जाएगी। इस परियोजना का लोकार्पण 23 जून 2021 को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किया। पीएम नरेन्द्र मोदी ने सभा स्थल से ही रिमोट कंट्रोल के द्वारा मोहनपुरा डैम के दो मीटर लंबे गेट को खोलकर मोहनपुरा डैम परियोजना का लोकार्पण किया। मोहनपुरा डैम परियोजना के तहत पहले चरण में साल भर पानी पहले कालीपीठ क्षेत्र में 25 हेक्टेयर की पथरीली जमीन में सिंचाई के लिए दी जाएगी। मोहनपुरा डैम परियोजना को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोकार्पण के साथ ही इसे राष्ट्र को समर्पित कर दिया।मोहनपुरा डैम परियोजना के अंतर्गत कृषि भूमि की सिंचाई सुविधा के साथ-साथ इस क्षेत्र के गाँवों को पीने का पानी भी उपलब्ध कराया जायेगा।

मोहनपुरा डैम परियोजना के प्रमुख बिंदु

  • मोहनपुरा डैम परियोजना की कुल लागत 3866.34 करोड़ रुपए है।
  • Mohanpura Dam परियोजना का निर्माण कार्य दिसंबर 2014 में शुरू हुआ था और इसे फरवरी 2018 में निर्माणावधि से पहले ही पूरा कर लिया गया। 
  • मोहनपुरा डैम में करीब 61.63 करोड़ घन मीटर जल भराव की क्षमता है।
  • इस डैम पर 456.50 मीटर लंबा और 77.50 मीटर की ऊँचाई  वाला पक्का बांध बनाया गया है।
  • इस डैम परियोजना के निर्माण से करीब 1.34 लाख हेक्टेयर भूमि पर सिंचाई की जा सकेगी।
  • इस परियोजना से मध्यप्रदेश की राजगढ़ ज़िले के लगभग 727 ग्राम लाभान्वित होंगे।
  • इस परियोजना के अंतर्गत पेयजल और उद्योग के लिये 5-5 मिलियन घन मीटर पानी आरक्षित किया गया है।
  • इस डैम पर 17 गेट है जिससे यह डैम राजगढ़ ज़िले का सबसे बड़ा और भोपाल संभाग का दूसरा सबसे बड़ा बांध हो जाता है।
  • इस परियोजना में माइक्रो इरीगेशन का विशेष रूप से ध्यान रखा गया है,मतलब इस परियोजना के अंतर्गत पाइपलाइन बिछाकर पाइपो के द्वारा खेत तक पानी पहुंचाने को प्राथमिकता और सुविधा दी गई है।

मोहनपुरा डैम परियोजना की आवश्यकता

मध्यप्रदेश राज्य का राजगढ़ जिला एक सूखा प्रभावित क्षेत्र है जहां किसान सिंचाई के नाम पर केवल  बारिश के पानी पर निर्भर है। यह डैम परियोजना  नेवाज नदी पर बनाया गया है। नेवाज नदी राजगढ़ जिले से लगभग 8 किमी की दूरी पर है।वृहद सिंचाई परियोजना मोहनपुरा  डैम से राजगढ़ जिले की 2.22 लाख हेक्टेयर जमीन पर सिंचाई का काम सफलतापूर्वक होने का आसार है जिससे जिले में गेहूं सहित अन्य फसलों की पैदावार भी करीब 9 लाख मीट्रिक होना शुरू हो जाएगी। इसके अलावा जो भूमि बंजर है या बंजर होनी शुरू हुई है उस जमीन को मोहनपुरा डैम परियोजना से लाभ पहुँचेगा।मोहनपुरा डैम से लगभग 1200 गांवों में जल मिशन के तहत पानी पहुंचाने का लक्ष्य है।जिससे हर घर को पीने के लिए शुद्ध पानी मिल सकेगा।मोहनपुरा डैम पर मनरेगा के जरिए पर्यटन की संभावनाएं विकसित करने की कोशिश की जा रही है। जिससे स्थानीय लोगो को रोजगार का एक  नया अवसर मिलेगा।इस डैम परियोजना के तहत इंडस्ट्रीज के लिए भी  स्थान व पानी आरक्षित किया गया है।

मोहनपुरा डैम कैसे पहुँचे | How to reach Mohanpura Dam

वायु मार्ग मोहनपुरा डैम जाने का सबसे निकटतम हवाई अड्डा भोपाल हवाई अड्डा है।यहाँ से मोहनपुरा डैम लगभग 130 किमी दूरी पर है।

रेल मार्ग मोहनपुरा डैम के लिए निकटस्थ रेलवे-स्टेशन ब्यावर रेलवे-स्टेशन है।यह डैम से केवल 16 किमी की दूरी पर है।

सड़क मार्ग- मोहनपुरा डैम राजगढ़ जिले से मात्र 8 किमी की दूरी पर है।इस डैम पर जाने के लिए आसानी से राजगढ़ से ऑटो,टैक्सी, कैब अथवा निजी वाहन के द्वारा जाया जा सकता है।

Other Articles: ब्रह्मा मंदिर | Brahma Mandir Pushkar: A Unique story of Brahma Temple

4 thoughts on “Mohanpura Dam (मोहनपुरा डैम) Rajgarh- A Irrigation Project of MP”

Leave a Comment