Masala Chai | मसाला चाय के फायदे – Benefits, Recipe and Taste

मसाला चाय औषधीय गुणो से युक्त एक स्वादिष्ट पेय पदार्थ है।मसाला चाय भी चाय की ही प्रजाति की शाखा है। मसाला चाय में अदरक व इलायची के साथ-साथ काली मरीच, दालचीनी, लौंग, आदि का उपयोग किया जाता है। यह चाय ठंडे मौसम मे बहुत लाभकारी सिद्ध होती है। मसाला चाय औषधीय गुण से परिपूर्ण तो होती ही है लेकिन यह चाय पीने मे अच्छी होने के साथ-साथ सुगंधित भी होती है। मसाला चाय में काफी मात्रा में मुख्य पौष्टिक तत्व होते है। जो शरीर के लिए आवश्यक और लाभकारी होते हैं।मसाला चाय मे कैलोरी बिल्कुल न के बराबर होती है। मसाला चाय में कई प्रकार के एंटीऑक्सीडेंट्स और खनिज व विटामिन के गुण होते है। मसाला चाय में कई तरह के मसाले का प्रयोग होता है जो व्यक्ति के शरीर को स्वस्थ रखने में सहायक होता है। यह विभिन्न प्रकार के रोगो को ठीक करने में फायदेमंद साबित होता है।

मसाला चाय कैसे बनती है । Masala Chai Recipe

सामग्री -(2 से 4 चार लोगो के लिए)

  • 1/2 चम्मच काली चाय पत्ती
  • 2-3 हरी इलायची के बीज
  • 1 से 2 लौंग
  • 1 दालचीनी का टुकड़ा (एक इंच)
  • 5 से 6 काली मिर्च के दाने
  • 1से 2 पिप्पली (आधा इंच)
  • 1अदरक का टुकड़ा
  • दूध और चीनी ( आवश्यकतानुसार)

विधि – चाय बनाने के लिए एक बर्तन में आवश्यकतानुसार पहले पानी चढावें उसके बाद उस पानी में दुध  डाल कर इसे स्टोव अथवा गैस पर चढावें। जब पानी मिश्रित दूध गर्म हो जाए तो उसमें काली चाय पत्ती और साथ ही साथ लौंग, इलायची, दालचीनी, काली मिर्च के दाने, पिप्पली और अदरक कूट कर डालें। दूध में उबाल आने दें और दूध को खोलने देंवें जब दूध में चाय पत्ती का रंग आने लगें तब उसमें आवश्यकतानुसार चीनी डालें और अच्छी तरह चम्मच से मिला दें।कुछ देर बाद स्टोव अथवा गैस बंद कर दें।फिर इसे कप में छान लें।मसाला चाय तैयार है।इस मसाला चाय के सुगंधित युक्त स्वाद और गुणों का आनंद लें।

मसाला चाय के फायदे

  • मसाला चाय से पाचन शक्ति बढ़ती है।मसाला चाय पाचन विकारों को भी नष्ट करने में मदद करती है। आयुर्वेद के अनुसार पाचनतंत्र से संबंधित समस्या में मसाला चाय बहुत फायदेमंद साबित होता है। मसाला चाय में प्रयोग होने वाला प्रत्येक मसाला का भोजन पचाने मेें अपनी ही भूमिका होती है जो पाचन रोग से निपटने में मदद करते हैं ।मसालो का गुण इस प्रकार हैं -अदरक,लौंग पाचन क्रिया सुधारने मे मदद करते है।
  • हरी इलायची और काली मिर्च पाचन एंजाइमों के स्राव को बढ़ाती है जिस से पाचन क्रिया सुचारू रूप से कार्य करती है।दालचीनी  पेट को ठंडा रखता है और दस्त या मिचली जैसे रोग को रोकने में मदद करता है।पिप्पली खाने को पचाने मे सहायक होता है और  आमाशय रस और पाचन में संतुलन बनाए रखने में मदद करता है।
  • मसाला चाय में प्रयोग होने वाले मसाले शरीर की प्रतिरक्षा शक्ति को मजबूत करता है। मसाला चाय में शामिल इलायची और अदरक दोनों ही शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ाते है और सामान्य बीमारी जैसे खांसी -जुकाम,सर्दी को दूर करने में फायदेमंद साबित होते हैं। 
  • मसाला चाय में शामिल दालचीनी और अदरक हार्मोनल असंतुलन में भी संतुलन बनाए रखते है।इसके साथ ही जोड़ो में दर्द और असुविधा को कम करने में काफी हद तक असरदार होते है।
  • Masala Chai में मौजूद मसाले में एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जो मुक्त कणों द्वारा ऊतकों और कोशिकाओ की क्षति को रोकने में फायदेमंद होते हैं। मसाला चाय में  इलायची,अदरक और काली मिर्च जैसे मसाले होते हैं जो चाय के  एंटी-ऑक्सीडेशन गुण को बढ़ाते हैं।
  • मसाला चाय कैंसर के उपचार में भी फायदेमंद होती है। अदरक कोलोरेक्टल कैंसर और डिम्बग्रंथि को रोकने में मदद करता है।तो वहीं इलायची भी अपने एंटी-ऑक्सीडेशन गुण होने के कारण नॉन मेलेनोमा नामक त्वचा कैंसर को रोकने में मदद करता हैं। 
  • Masala Chai रक्तचाप को भी कंट्रोल करने में  मदद करता है।काली मिर्च में मौजूद पिपरीन (piperine) एक सक्रिय एंटीऑक्सीडेंट है जो ऊतकों और कोशिकाओं में ऑक्सीडेटिव क्षति को रोकने में फायदेमंद साबित होती है।
  • मसाला चाय में एंटी इंफलमेटरी के गुण होते है।मसाला चाय मेें प्रयुक्त अदरक और लौंग शरीर के किसी भी भाग के सूजन को कम करने की शक्ति रखती है।
  • मसाला चाय के नियमित सेवन से शरीर में ऑक्सीजन की कमी नही होती।मसाला चाय शरीर के पैंक्रियाज भाग को स्टिमुलेट (उत्तेजित) कर देती है जिस से शरीर की पाचन शक्ति बढ़ती तो है ही साथ ही साथ में शरीर की रक्त शर्करा को भी नियंत्रित करती रहती है।

Masala Chai की सबसे बड़ी खासियत यह है कि इस चाय की सामग्री आसानी से घर के किचन से ही उपलब्ध हो जाती है। मसाला चाय में डलने वाले मसाले प्रमुख रूप से प्रत्येक घर में गरम मसाला के नाम से प्रचलित है। मसाला चाय न केवल मनुष्य के शरीर को चुस्त व दुरूस्त करता है बल्कि मसाला चाय पीने के बाद चाय के मंद मंद सुगंध से मन भी खुश हो जाता है। यह चाय औषधीय गुण से परिपूर्ण होती है।इस चाय में प्रयोग होने वाला प्रत्येक मसाला औषधीय गुण से भरा पूरा हुआ है।

Other Related Articles:
चाय पीने के फायदे | chai peene ke fayde

3 thoughts on “Masala Chai | मसाला चाय के फायदे – Benefits, Recipe and Taste”

Leave a Comment