केन्द्रीय विद्यालय (संपूर्ण जानकारी) | Kendra Vidhalaya- Fees, Environment and Facts

परिचय:

Kendra Vidhalaya भारत के प्रत्येक राज्य के प्रत्येक जिले मे स्थित है। यह स्कूल केंद्र सरकार के अंतर्गत आता है।केन्द्रीय विद्यालय की स्थापना सन् 1962 ई.मे हुई थी शुरुआत मे पहले सेना रेजिमेंट के स्कूलो को केन्द्रीय विद्यालय के अंतर्गत लिया गया।आज के दिन मे केन्द्रीय विद्यालय भारत के प्रत्येक राज्य के प्रत्येक जिले मे स्थित है। और साथ ही मास्को, तेहरान और काठमांडू मे भी इसकी शाखा है।केन्द्रीय विद्यालय विशेष रूप से केन्द्रीय कर्मचारियो के साथ-साथ अर्द्ध सैनिक बल एवं  रक्षाकर्मियो के बच्चो के लिए बनाया गया था क्योकि इनका स्थान्तरन सदैव होता रहता था।

केन्द्रीय विद्यालय मे प्रवेश | Admission in Kendra Vidhalaya

केन्द्रीय विद्यालय मे प्रवेश कक्षा एक( 1) कक्षा नौ (9) और कक्षा ग्यारह (11) मे होता है। शेसन के बीच मे और  बीच के कक्षाओ मे यह उन्ही विधारथी को प्रवेश देता है जो एक  जगह से दूसरे जगह स्थानांतरित होकर आते है। केन्द्रीय विद्यालय प्रवेश देते समय बच्चो के आयु का विशेष ध्यान रखता है और उसी के अनुसार उसे क्लास आबंटित करता है।

केन्द्रीय विद्यालय की फीस | Kendra Vidhalaya Fess

केन्द्रीय विद्यालय की फीस अन्य स्कूलो की तुलना मे कम है।

वर्ष 2021-22 का फीस स्ट्रक्चर

एडमिशन फी:- 25 रूपए, री-एडमिशन फी:- 100 रूपए

टूशन फी

कक्षा 9 और 10 (लड़के):- 200 रूपए
कक्षा 11 और 12, कॉमर्स एंड ह्यूमैनिटीज (लड़के):  300 रूपए
कक्षा 11 और 12 (लड़के) :-  400 रूपए

कंप्यूटर फंड

कक्षा 3 से (जिसमे कंप्यूटर शिक्षा शामिल है): 100 रूपए
कंप्यूटर साइंस फी (इलेक्टिव सब्जेक्ट्स ) + 2:   150 रूपए

विद्यालय विकास निधि (कक्षा 1 से 12):  500 रूपए

Kendra Vidhalaya का वातावरण:

केन्द्रीय विद्यालय केवल स्कूली शिक्षा पर जोर नही देता। केन्द्रीय विद्यालय अपने पाठ्यक्रम मे किताबी शिक्षा के अलावा स्किल्स, खेल-कूद, और भी अनेक प्रकार के क्षेत्र पर ध्यान देता है। जिससे छात्र स्वयं से पढ़कर उसे समझ कर अच्छे से प्रयोग कर के विश्लेषण कर पाते है। जिस से छात्र की स्किल्स विकसित होती है और वह किसी भी कार्य को पूर्ण दक्षता के साथ कर पाते है।

केन्द्रीय विद्यालय का वातावरण और पाठ्यक्रम छात्र छात्रओ के अनूकुल होता है।

केन्द्रीय विद्यालय के महत्वपूर्ण तथ्य:

  1. केन्द्रीय विद्यालय मे पूरे भारतवर्ष मे एक समान पाठ्यक्रम चलाया जाता है ताकि यदि कोई छात्र सेशन के बीच मे स्थान्तरन होकर आ जाए तो उसे दिक्कत न हो।यहाँ तक की विदेशो मे भी वही पाठ्यक्रम पढाया जाता है जो भारत मे पढाया जाता है।
  2. केन्द्रीय विद्यालय की सबसे महत्वपूर्ण विशेषता यह है कि यह अपने पाठ्यक्रम मे द्विभाषीय भाषा का प्रयोग करती है ।एक तो अपनी मातृभाषा अथवा अंग्रेजी और दूसरी भाषा क्षेत्रीय भाषा होती है।यदि कोई छात्र हिंदी और अंग्रेजी समझने मे असमर्थ है तो वह अपने क्षेत्रीय भाषा मे पढाई कर सकता है और परीक्षा भी दे सकता है।
  3. यथोचित शिष्य-शिक्षक के अनुपात का पूरा ध्यान रखा जाता है।और साथ ही शिक्षा के गुणवत्ता का भी।
  4. केन्द्रीय विद्यालय समभाव, सदभावना और राष्ट्रीयता को बहुत महत्व देता है।
  5. केन्द्रीय विद्यालय का वातावरण बहुत ही सौहार्द पूर्ण है।यहाँ सभी धर्म के लोगो को सम्मान दिया जाता है और मिलकर सभी त्यौहारो को मनाया जाता है।
  6. केन्द्रीय विद्यालय स्थान्तरन होने वाले नौकरी के लोगो के लिए अच्छा है।क्योकि यह भारत के प्रत्येक राज्य के प्रत्येक जिले मे स्थित है।

केन्द्रीय विद्यालय भारत का सबसे बड़ा चेन स्कूल है।अपितु यह भारत का ही नही पूरे विश्व मे सबसे बड़ा चेन स्कूल है। इसका पाठ्यक्रम मुख्य रूप से प्रैक्टिकल है।जो छात्र छात्रओ  को आसानी से समझ मे भी आ जाती है और पढ़ाई के प्रति रुचि भी बनाए रखती है।

Other Articles: Tirupati Balaji Mandir | तिरूपति बालाजी: Story, Importance and How to reach

1 thought on “केन्द्रीय विद्यालय (संपूर्ण जानकारी) | Kendra Vidhalaya- Fees, Environment and Facts”

Leave a Comment