कमला नेहरू प्राणी संग्रहालय, इंदौर

कमला नेहरू प्राणी संग्रहालय नवलखा, इंदौर में स्थित एक प्राणी उद्यान है, जिसका प्रबंधन इंदौर नगर निगम द्वारा किया जाता है। यह चिड़ियाघर ऑनलाइन बुकिंग, पशु-स्वास्थ्य ऐप और टचलेस एंट्री सिस्टम से जुड़ने वाला एकमात्र चिड़ियाघर है, जिस वजह से यह भारत का सबसे उन्नत चिड़ियाघर माना जाता है।

यह 210335 वर्ग मीटर के क्षेत्र में फैला हुआ मध्यप्रदेश राज्य का सबसे बड़े एवं सबसे पुराने प्राणी उद्यानों में से एक है।

कमला नेहरू प्राणी संग्रहालय भारत में कुल 180 मान्यता प्राप्त चिड़ियाघरों में से एक है। चिड़ियाघर में विभिन्न प्रकार के जानवर और पक्षी हैं जो दुनिया के विभिन्न हिस्सों से लाए गए हैं। सफेद बाघ, रॉयल बंगाल टाइगर, घड़ियाल, हिमालयी भालू और सफेद मोर के प्रजनन के लिए चिड़ियाघर के प्रयास सफल रहे हैं। इंदौर चिड़ियाघर जानवरों, पौधों के संरक्षण और प्रदर्शनी का केंद्र है।

खुलने की तिथि1974  
स्थानएबी रोड, नवलखा, इंदौर, मध्य प्रदेश, भारत
निर्देशांक22.702°N 75.880°E
भूमि क्षेत्र51.975 एकड़
प्रजातियों की संख्या57
प्रमुख प्रदर्शनस्नेक हाउस, मिरर हाउस, चिल्ड्रन पार्क, संग्रहालय, बटरफ्लाई पार्क
वेबसाइटknpsi.in

इतिहास

1974 में नवलखा क्षेत्र में इंदौर चिड़ियाघर की स्थापना केवल 17 एकड़ भूमि में हुई थी, बाद में वर्ष 1999 में क्वाडीबाग की 32 एकड़ भूमि चिड़ियाघर द्वारा “अधिग्रहित” की गई, इसलिए इंदौर चिड़ियाघर का वर्तमान क्षेत्र 51 एकड़ है। इंदौर चिड़ियाघर का कुल क्षेत्रफल हरियाली से भरा है जहां विभिन्न प्रकार के पेड़ – पौधे जंगली जानवरों को जंगल का प्राकृतिक एहसास देते हैं।

मुख्य आकर्षण

चिड़ियाघर में भारतीय हाथी, दरियाई घोड़ा, काला हिरण, नीलगाय, चित्तीदार हिरण, सांभर हिरण, चिंकारा, एशियाई शेर, भारतीय तेंदुआ, भारतीय भेड़िया, सियार, भारतीय लोमड़ी और धारीदार लकड़बग्घा जैसे जानवर देखे जा सकते हैं। चिड़ियाघर मयूर, सफेद मयूर, सारस क्रेन, लेडी एमहर्स्ट के तीतर, मिस्र के गिद्ध, लवबर्ड की विभिन्न प्रजातियों, एमु, शुतुरमुर्ग, बार्न उल्लू, तुर्की बत्तख, गिनी फाउल, रोजी पेलिकन, तोता, चित्रित सारस, काला हंस और मूक हंस जैसी विभिन्न प्रजातियों के पक्षियों का घर है। इंदौर चिड़ियाघर में मगर और घड़ियाल भी रहते हैं जो भारतीय उपमहाद्वीप के मूल निवासी हैं।

चिड़ियाघर हाथी की सवारी, ऊंट की सवारी, टट्टू की सवारी और घोड़े की सवारी जैसी जानवरों की सवारी भी प्रदान करता है। इन सवारी को पूरे चिड़ियाघर में भी घूमने के लिए किराए पर लिया जा सकता है। इसके अलावा, चिड़ियाघर प्राधिकरण विभिन्न गतिविधियों और कार्यक्रमों जैसे फोटो प्रदर्शनियों, नृत्य प्रतियोगिताओं, फैंसी ड्रेस प्रतियोगिताओं, ड्राइंग प्रतियोगिताओं, कैनवास प्रतियोगिताओं, मंच नाटक प्रतियोगिताओं और विश्व रिकॉर्ड प्रतियोगिताओं की गोल्डन बुक आयोजित करता है। यहाँ शहर के युवा नागरिकों को आकर्षित करने के लिए कई सांस्कृतिक गतिविधियों के साथ-साथ मैजिक शो, स्नेक शो, क्विज शो भी आयोजित किये जाते हैं।

भारत का पहला स्मार्ट चिड़ियाघर

2017 में, इंदौर चिड़ियाघर भारत का पहला स्मार्ट चिड़ियाघर बन गया। पर्यटक जानवरों और पक्षियों के पास आकर उनके बारे में रोचक तथ्य प्राप्त कर सकते है उन्हें सिर्फ अपने फ़ोन पर Accio नाम का एक मुफ्त ऐप इंस्टॉल करना होगा – जो जानवरों के बारे में दिलचस्प जानकारी दिखाता है। इस app से पर्यटकों को प्रत्येक जानवर की सुंदरता और विशिष्टता की जानकारी प्राप्त होती है, जिसके परिणामस्वरूप पर्यटक उन्हें अधिक निकट से महसूस कर सकते है। ऐसा करने के लिए ब्लूटूथ और IoT तकनीकों का इस्तेमाल किया गया। यह परियोजना IIT इंदौर कंप्यूटर विज्ञान के दो स्नातक छात्रों, शिखर बंसल और रविशंकर भारती द्वारा शुरू किए गए स्टार्टअप के सहयोग से शुरू की गई थी।

प्रवेश शुल्क एवं खुलने और बंद होने का समय

  • कमला नेहरू प्राणी संग्रहालय का समय सुबह 09:00 बजे से शाम 07:00 बजे तक है।
  • भारतीयों के लिए प्रवेश शुल्क 10 रुपये और विदेशी के लिए 500 रुपये हैं।

कमला नेहरू प्राणी संग्रहालय कैसे पहुंचे

रेल द्वारा:- कमला नेहरू प्राणी संग्रहालय इंदौर जंक्शन से 2.5 किमी दूर है, आप यहां ऑटो बुक कर सकते हैं और चिड़ियाघर जा सकते हैं।

बस द्वारा:- कमला नेहरू प्राणी संग्रहालय के लिए निकटतम बस स्टैंड इंदिरा प्रतिमा बस स्टैंड है जो 1 मिनट की पैदल दूरी पर है।

मेट्रो द्वारा:- कमला नेहरू प्राणी संग्रहालय से मेट्रो स्टेशन (बड़ा गणपति) की दूरी 6.1 किमी है, आप यहां से संग्रहालय के लिए टैक्सी ले सकते हैं।

कमला नेहरू प्राणी संग्रहालय के बारे में रोचक तथ्य

  • कमला नेहरू प्राणी संग्रहालय भारत में कुल 180 मान्यता प्राप्त चिड़ियाघरों में से एक मान्यता प्राप्त चिड़ियाघर है।
  • चिड़ियाघर में विभिन्न प्रकार के जानवर और पक्षी हैं जो दुनिया के विभिन्न हिस्सों से लाए गए हैं।
  • यह अपनी अनूठी गोद लेने की योजना के माध्यम से पशु प्रेमियों और शुभचिंतकों का समर्थन चाहता है।
  • इंदौर चिड़ियाघर अपने दुर्लभ जानवरों विशेषकर सफेद बाघ के संग्रह के कारण हमेशा सुर्खियों में रहता है।
  • इंदौर चिड़ियाघर के बारे में एक अच्छी बात यह है कि यहां जानवरों को उनके आरामदायक वातावरण में प्रदर्शित किया जाता है।
  • बच्चों के लिए इसमें हाथी की सवारी, ऊंट की सवारी, टट्टू की सवारी और घोड़े की सवारी शामिल है।

आस-पास के प्रसिद्ध स्थान

  • इंदौर संग्रहालय – 0.3 किमी दूर
  • इंदौर सफेद चर्च – 1.6 किमी दूर
  • गांधी हॉल – 3.3 किमी दूर
  • कृष्णपुरा छतरी – 3.8 किमी दूर
  • गोपाल मंदिर – 3.9 किमी दूर

Other Famous Articles:

इंदौर में घूमने की जगह | इंदौर के लोकप्रिय पर्यटन स्थल | Places in Indore

Leave a Comment