Blogging मे Career कैसे बने | Importance, Billionaire Ways

Blogging Career एक प्रकार का डिजिटल डायरी है जो किसी वेबसाइट के माध्यम से वो अपना अनुभव अपने विचार, जानकारी, टेक्सट, इमेज, वीडियोज इत्यादि (शेयर) साझा करते है।

ब्लॉगिंग के उद्देश्य | Objective of Blogging

ब्लॉगिंग के उद्देश्य निम्नलिखित है।

  • ब्लॉगिंग के द्वारा अपने विचारो को व्यक्त किया जा सकता है।
  • ब्लॉगिंग के द्वारा ऑनलाइन पैसे कमाए जा सकते है।
  • ब्लॉगिंग के द्वारा पोस्ट से संबंधित जानकारी शेयर की जा सकती है।
  • ब्लॉगिंग के द्वारा दूसरो की मदद की जा सकती है और दूसरो से मदद ली भी जा सकती है।
  • ब्लॉगिंग एक डिजिटल प्लेटफार्म तैयार करता है जिस से बिजनेस को बढाया व फैलाया जा सकता है।
  • ब्लॉगिंग के द्वारा एक अच्छा लेखक बनकर अपने क्षेत्र मे महारत हासिल की जा सकती है।

ब्लॉगिंग मे कैरियर | Career in Blogging

ब्लॉगर द्वारा लिखा हुआ कोई भी आर्टिकल जब वेबसाइट पर आजाता है तो इसे ब्लॉगिंग कहते है।एक ही ब्लॉग को कई व्यक्ति लिख कर ऑनलाइन पोस्ट कर सकते है।

ब्लॉग लिखते समय कुछ बातो पर अवश्य ध्यान देना चाहिए।

  1. ब्लॉग बड़े पैराग्राफ मे नही लिखने चाहिए।
  2. ब्लॉग लिखते समय असभ्य और अशोभनीय भाषा का प्रयोग न करे।
  3. आलोचको की प्रतिक्रिया चाहे वह नकरात्मक हो अथवा सकरात्मक दोनो को नही नकारे।

ब्लॉगिंग की तरह कई होती है कोई शौक के तौर पर करता है तो कोई पार्ट टाइम। लेकिन प्रोफेशनल ब्लॉगर बनने के लिए कुछ बातो पर विशेष ध्यान देना चाहिए।

  • अपने ब्लॉग मे नये नये तथ्य जोड़े जिस से पाठको की रूचि बने और वह आपके लेखनी के कायल हो जाए।
  • किसी भी ब्लॉग को लिखते समय उस टॉपिक पूरा रिसर्च करे तब लिखे।
  • ब्लॉग लिखते समय भारत देश की संप्रभुता और अखंडता को ध्यान मे रखकर लिखे।
  • ब्लॉग मे इमेज टॉपिक के अनुसार ही डालने चाहिए।
  • ब्लॉग को विभिन्न तरह के सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर शेयर करे।
  • ब्लॉग पर आये कमेंट्स का तहेदिल से स्वागत करे और सही तरीके से जवाब देंवें
  • ब्लॉग किसी भी तरह के विषय पर लिखा जा सकता है।लेकिन वह ठीक से संप्रेषित होनी चाहिए।

ब्लॉगिंग मे पैसे किस तरह से मिलते है | How to earn money from Blogging

जिस तरह से व्यापार मे पैसे कमाने के लिए एक बेहतर प्लान और मेहनत की जरूरत होती है उसी प्रकार एक ब्लॉग के माध्यम से अच्छी कमाई के लिए योजनाबद्ध कार्य करना होता है।जैसे: खुद के ब्लॉग का प्रचार प्रसार करके,विभिन्न सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर विज्ञापन देकर, फ्रीलांसिग सर्विस देकर आदि।

किस विषय पर ब्लॉग लिखें | Blogging Topics

ब्लॉग किसी भी विषय पर अथवा अपने रूचि के अनुसार लिखा जा सकता है।ब्लॉगिंग का दायरा बहुत ही विस्तृत है। इन विषयो को हम कई भागो मे बाँट सकते है।जैसे फिटनेस, फूड, स्टाइल, गेमिंग, धार्मिक, सांस्कृतिक, आर्थिक, व्यापारिक, वित्तीय, फिल्म, खेल-कूद, पर्सनल, ऑटोमोबाइल इत्यादि।

ब्लॉगिंग के फायदे | Benefits of Blogging

ब्लॉगिंग के कई  फायदे है

  1. ब्लॉगिंग के द्वारा अपने विचार प्रतिक्रिया को लोगो के सामने रखा जा सकता है।
  2. ब्लॉगिंग के द्वारा नई पोर्टफोलियो बनाकर नौकरी की तलाश की जा सकती है।
  3. ब्लॉगिंग के द्वारा ऑनलाइन बिजनेस बढाया जा सकता है।
  4. ब्लॉगिंग के द्वारा एक नेटवर्क तैयार हो जाता है।
  5. ब्लॉगिंग के द्वारा नई बाते सीखने को मिलती है।
  6. ब्लॉगिंग के द्वारा नई जानकरी भी मिलती है।
  7. ब्लॉग लिख कर ऑनलाइन पैसे भी कमाए जा सकते है।

ब्लॉगिंग की सीमाऐ

ब्लॉगिंग की सीमाऐ निम्नलिखित है।

  1. ब्लॉग लिखते समय ब्लॉग ऐरर (errors)का ध्यान रखना चाहिए। (google) गूगल इस बात पर ध्यान देता है कि कौन सा कंटेंट error free है।और उसी को पहले दिखाता है।
  2. ब्लॉग लिखते हुए किसी ओर के आर्टिकल के कंटेंट अपने आर्टिकल मे न डाले। कंटेंट कॉपी पेस्ट करने से गूगल आर्टिकल की रैंकिंग नीचे कर देता है।
  3. ब्लॉगिंग मे घबराना नही चाहिए थोड़ा संयम रखना चाहिए। एक बार गूगल जब आपके आर्टिकल की क्वॉलिटी समझ जाता है तो वह फिर आप के आर्टिकल को पहले दिखाता है।
  4. ब्लॉगिंग मे सदैव regular और update रहना चाहिए ताकि पाठको को पढने के लिए नए नए सामाग्री और रूचिकर जानकरी मिलते रहे।
  5. ब्लॉगिंग करते समय SEO (Search Engine Optimization) पर विशेष ध्यान दें। SEO सबके लिए एक जैसा नही होता ।
  6. ब्लॉग लिखते समय शब्दो का चयन एवं प्रयोग पर विशेष ध्यान केंद्रित करना चाहिए।

ब्लॉगिंग वर्तमान समय मे एक उभरता हुआ प्रभावशाली कैरियर है। ब्लॉग कोई भी लिख सकता है इसके लिए न कोई उम्र सीमा  है और न ही कोई लिंग भेदभाव।

Other Articles: श्यामजी साँका मंदिर, नरसिंहगढ़ | NARSINGHGARH

Leave a Comment